• {{ result.title }}

12

pulkitabstar 18-November-2019

सूर्य का गोचर के वजह से मेष राशि के जातकों के लिए अष्टम भाव में होने जा रहा है। ज्योतिष के मुताबिक अष्टम भाव से मृत्यु का विचार किया जाता है।सूर्य गोचर के समय वृषभ राशि के जातकों के लिए सातवें भाव में रहता है। ज्योतिष में सातवें भाव के कारण विवाह का विचार किया जाता है।सूर्य के गोचर के समय मिथुन राशि के जातकों के लिए छठे भाव में रहता है। ज्योतिष के मुताबिक छठे भाव से रोग और शत्रु का विचार रहता है।सूर्य गोचर से कर्क राशि पर प्रभाव पांचवे भाव में होता है। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक इस भाव से प्रेम और संतान का मन में विचार आता है।इस समय सूर्य के गोचर के कारण सिंह राशि के लिए चौथे भाव पर होता है। इसके कारण सिंह राशि के लोगों की माता का सेहत खराब हो सकता है।सूर्य गोचर के तीसरे भाव के वक्त, ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक धार्मिक कार्य के तरफ इस राशि के लोगों के विचार उत्पन्न होता है।सूर्य के गोचर के समय इस राशि के लोगों पर दूसरे भाव का प्रभाव होता है। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक दूसरे भाव में धन और कुटूंब का विचार आता है।

...

Write your comment

Login need for leave comments

Comments

Related Post